पीएम मोदी ने की मन की बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर से देश के साथ अपने ‘मन की बात’ को साझा किया… पीएम ने मन की बात के 33वें संस्करण के जरिए देश को संबोधित किया… बता दें कि पीएम मोदी हर महीने के आखिरी रविवार को ‘मन की बात’ कार्यक्रम से देश को संबोधित करते हैं.
पीएम ने इस बार मन की बात में देशवासियों को ईद की बधाई देते हुए भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा की भी बधाई दी… उन्होंने मानसून का भी जिक्र किया.. उन्होंने कहा कि मौसम बदल रहा है. इस बार गर्मी भी बहुत रही, लेकिन अच्छा हुआ कि वर्षा ऋतु समय पर अपने नक्शे कदम पर आगे बढ़ रही है… उन्होंने बारिश के आगमन को मनःस्थिति को बदलने वाला बताया… उन्होंने आपातकाल का जिक्र करते हुए उसे भारतीय लोकतंत्र के लिए काली रात करार दिया… उन्होंने आपातकाल के दौरान जेल गए लोगों का भी जिक्र किया… उन्होंने कहा कि इमरजेंसी के दौरान अटलजी जेल में थे. उस रात को कोई भारतवासी, कोई लोकतंत्र प्रेमी भुला नहीं सकता. एक प्रकार से देश को जेलखाने में बदल दिया गया था. विरोधी स्वर को दबोच दिया गया था. जयप्रकाश नारायण सहित देश के गणमान्य नेताओं को जेलों में बंद कर दिया था. न्याय व्यवस्था भी आपातकाल के उस भयावह रूप की छाया से बच नहीं पाई थी….

LEAVE A REPLY